जयपुर के विश्वकर्मा इलाके में गैस सिलेंडर फटने से एक ही परिवार के 5 लोग जिंदा जले, सीएम भजनलाल ने जताया शोक

चौक टीम, जयपुर। राजधानी के विश्वकर्मा इलाके में गुरुवार को एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आए है। सुबह एक घर में भीषण आ गई, जिसके चलते 5 लोग जिंदा जल गए। इस हादसे में पति-पत्नी समेत तीन बच्चों की मौत हो गई। घटना विश्वकर्मा थाना क्षेत्र जैसल्या गांव की है। मरने वाले सभी लोग बिहार के रहने वाले थे। वे यहां इस मकान में किराए पर रहते थे। आग लगने की सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस और प्रशासन मौके पर पहुंचा। दमकल विभाग की गाड़ियों को भी आग बुझाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।

गैस सिलेंडर फटने से लगी आग

पुलिस ने मुताबिक, गैस चल रहा था तभी अचानक से सिलेंडर फटा और पूरे मकान में आग गई। जिसके चलते कमरे के अंदर मौजूद बाहर नहीं निकल सके और जिंदा ही जल गए। पुलिस की टीम फिलहाल इस मामले में जांच कर रही है। मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है।

विश्वकर्मा के जैसल्या गांव में हुई घठना

पुलिस ने बताया कि हादसा विश्वकर्मा के जैसल्या गांव का है। मधुबनी बिहार निवासी एक परिवार किराए के मकान में रहता था। परिवार में 3 बच्चे सहित माता-पिता थे। देर रात परिवार के पांचों सदस्य घर में सो रहे थे। अचानक लगी आग ने पांचों जनों को चपेट में ले लिया। आग से बचने के लिए कमरे के कोने में घुसकर बैठ गए।

9 महीने की मासूम की जिंदा जलकर मौत

इससे पहले बांसवाड़ा में 9 महीने की मासूम की घर के अंदर जिंदा जलकर मौत हो गई थी। आदिवासी समाज की महिला अपने चार बच्चों को घर में ही छोड़कर पास ही कपड़े धोने के लिए गई थी। जब महिला कुछ देर बाद वापस आई तो उसने घर में आग लगी देखी। महिला और उसके अन्य रिश्तेदारों ने आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन तब तक मासूम की मौत हो चुकी थी।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img