पेपर लीक सहित कई मामलों पर बेनीवाल ने सरकार को घेरा

जयपुर। आरएलपी प्रमुख व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने शुक्रवार को जयपुर में पेपर लीक प्रकरण, बढ़ती बेरोजगारी, कानून व्यवस्था सहित लोकहित के कई मुद्दों को लेकर प्रेस वार्ता की । सांसद ने कहा की पेपर लीक करवाने में भी वसुंधरा व गहलोत का आपसी गठजोड़ है। सांसद बेनीवाल ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में एक दर्जन से अधिक भर्तियों के पेपर लीक हुए हैं। जिसके कारण भर्तियां रद्द हुई है। जब भी पेपर लीक करवाने में संदिग्ध किसी मंत्री और ब्यूरोक्रेट्स का नाम आता है तो सरकारें वहां चुप हो जाती है। राज्य की कोई भी जांच एजेंसी निष्पक्ष जांच नही कर सकती। ऐसे में सरकाए को ऐसे प्रकरणों की जांचे सीबीआई से करवाने की जरूरत है।

बेनीवाल ने कहा की हाल ही में वरिष्ठ अध्यापक भर्ती पेपर लीक प्रकरण के सरगना सुरेश ढाका और लंबे समय तक सीएमओ में रहे अमित ढाका एक साथ रहे हैं। ऐसे में इनकी नजदीकियों की जांच करवाने की आवश्यकता है। इसके साथ ही सरकार के नजदीकी लोगों पर भी पेपर लीक में शामिल होने का आरोप लगाया है।

तीन बड़े प्रदर्शनों का एलान

सांसद ने पेपर लीक प्रकरण को लेकर 17 जनवरी को राजधानी जयपुर में बड़ा प्रदर्शन करने,19 जनवरी को बाड़मेर जिले के बालोतरा में बजरी माफियाओं के खिलाफ तथा 20 जनवरी को अजमेर में विद्युत से जुड़ी समस्याओं को लेकर डिस्कॉम एमडी के कार्यालय के बाहर बड़ा प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सीएम ने कुर्सी बचाने के लिए विधायकों को खुली छूट दे रखी है। प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ रहा है। इस दौरान आरएलपी के प्रदेश अध्यक्ष व भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग, खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल तथा मेड़ता विधायक इंदिरा देवी बावरी भी मौजूद रही।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img