राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के अपने-अपने दावे

जयपुर। राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज राजस्थान विधानसभा में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान हुआ।मतदान के दौरान राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस ने अपने-अपने दावे किए हैं।कांग्रेस पार्टी ने जहां राष्ट्रपति चुनाव में अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील की है तो वही बीजेपी ने कांग्रेस खेमे में सेंधमारी का दावा किया है।
विधानसभा में मुख्य सचेतक महेश जोशी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी एकजुट है और विधायक अंतरात्मा की आवाज पर वोट करेंगे। उन्होंने कहा कि यह विचारधारा की लड़ाई है। लोकतंत्र को मजबूत करने की लड़ाई है, एक विचारधारा वो है जो लोकतंत्र को कमजोर करना चाह रहे हैं। एक विचारधारा वो है जो जनता को मजबूत करना चाह रही है। महेश जोशी ने बीजेपी के सेंधमारी के दावे को खारिज करते हुए कहा कि बीजेपी के दावे में कोई दम नहीं है, कांग्रेस के एसटी विधायकों के साथ साथ अन्य एसडी विधायक भी कांग्रेस के पक्ष में मतदान करेंगे
वही कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राष्ट्रपति के चुनाव में अंतरात्मा की आवाज पर वोट पड़ेगा। देश को ऐसा राष्ट्रपति नहीं चाहिए जो केंद्र के दबाव में काम करें। राष्ट्रपति ऐसा होना चाहिए जो देश की आवाज को समझे, देश के दर्द को समझे और जब देश में इस तरह के हालात हो तो आगे आकर अपना निर्णय ले। पहले भी कई राष्ट्रपति आए हैं जिन्होंने कई ऐतिहासिक निर्णय लिए हैं। प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राष्ट्रपति ऐसा होना चाहिए जो विपक्ष को भी साथ लेकर चले।देश में आज जब संविधान और लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई जा रही है तो राष्ट्रपति को उस पर बोलना चाहिए। प्रताप सिंह खाचरियावास ने गुलाब सिंह कटारिया के दावे को खारिज करते हुए कहा कि गुलाबचंद कटारिया को भाजपा के लोग ही सीरियस नहीं लेते। वो कुछ भी बयान दे देते हैं उनके बयान को गंभीरता से नहीं लेना चाहिए। प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि आज देश में हालात खतरनाक है, आटे और चावल पर भी केंद्र सरकार ने जीएसटी लगा दी है। मोदी देश के ऐसे पहले प्रधानमंत्री जिन्होंने ऐसा काम किया है और गरीब के मुंह से निवाला छीनने का काम किया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए देशभर में भले ही बीजेपी के पास वोट ज्यादा है लेकिन राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के पास वोट ज्यादा है,राजस्थान में एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को यहां चुनाव में हार का सामना करना पड़ेगा।
नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने पार्टी आलाकमान का धन्यवाद देते हुए कहा कि पार्टी नेतृत्व और शीर्ष नेताओं की सोच को सलाम है जिन्होंने पहली बार आदिवासी महिला को देश के सर्वोच्च पद पर आसीन करने का मौका दिया है।इससे देशभर में खुशी का माहौल है खासतौर पर आदिवासी वर्ग में भी जश्न का माहौल है ।पहली बार कोई आदिवासी महिला राष्ट्रपति पद पर आसीन होंगी। गुलाबचंद कटारिया ने राष्ट्रपति चुनाव के मतदान में दावा करते हुए कहा कि एनडीए उम्मीदवार को कम से कम 10 वोट ज्यादा मिलेंगे।
एनडीए उम्मीदवार को वोट करेगी रालोपा
वही राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने भी स्पष्ट कर दिया है कि वो राष्ट्रपति पद के चुनाव में एनडीए उम्मीदवार के पक्ष में मतदान करेंगे। रालोपा के विधायक नारायण बेनीवाल कहा कि राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के विधायक एनडीए प्रत्याशी को वोट करेंगे लेकिन देश में आज बढ़ती महंगाई बेरोजगारी और कई ज्वलंत मुद्दे हैं जिस पर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी लगातार सड़कों पर संघर्ष करेगी।

--advt--spot_img