Home अपराध राजस्थान में नहीं थम रहे दलितों पर अत्याचार, अब चित्तौड़गढ़ में दलित...

राजस्थान में नहीं थम रहे दलितों पर अत्याचार, अब चित्तौड़गढ़ में दलित से सिर पर जूता रखवाकर मंगवाई माफ़ी; जानें मामला

राजस्थान में दलितों के खिलाफ अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। प्रशासन और सरकार ऐसे कृत्यों को रोकने में सदैव नाकाम साबित हो रहे हैं।

0

चौक टीम, जयपुर। राजस्थान में दलितों के खिलाफ अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। प्रशासन और सरकार ऐसे कृत्यों को रोकने में सदैव नाकाम साबित हो रहे हैं। जालोर, कोटा, जोधपुर जैसे तमाम शहरों से समय-समय पर दलितों पर होने वाले अत्याचारों की घटना सामने आई है और अब बारी चित्तौड़गढ़ की है।

चित्तौड़गढ़ में दलित व्यक्ति के खिलाफ अत्याचार की ऐसी घटना सामने आई है जिसमें तालिबानी सजा सुनाई गई है। मामला जिले के बेगू उपखण्ड दुगार का है जहाँ एक वृद्ध व्यक्ति को पंचायत बुला कर तालिबानी सजा सुनाई गई और सिरपर चप्पल रखकर माफ़ी मंगवाई गई है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और इसको लेकर दलित संगठनों में रोष भी है। दलित संगठनों ने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाकर मामले में त्वरित कार्यवाही की मांग की है और दोषियों को सख्त सज़ा दिलाने की मांग की है।

जानकारी के अनुसार दुगार ग्राम में बगड़ावत पढ़ने के दौरान एक वृद्ध व्यक्ति की ज़ुबान फिसल गई थी जिसके बाद दुगार ग्राम के समाज विशेष के लोगों ने 16 सितम्बर की शाम बैठक बुलाई और पीड़ित व्यक्ति को सिर पर जूता रखकर माफ़ी मांगने पर मजबूर किया। मामला यही नहीं रुका बल्कि भीलवाड़ा जिले के सुलिया गाँव से एक दबंग व्यक्ति ने पीड़ित परिवार को फ़ोन किया और जान से मारने की धमकी भी दी।

मुख्यमंत्री से की इन्साफ की मांग

दलित संगठनों ने मामले में रोष जताते हुए इंसाफ की मांग की है। परिवाद की प्रति मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक और मानवाधिकार आयोग को भी भेजी गई है। इस मामले में भारतीय दलित साहित्य अकादमी के जिला अध्यक्ष मदन ओजस्वी ने कहा है की एक व्यक्ति ने फ़ोन कर पीड़ित परिवार को ऐसी धमकी दी है की पूरा परिवार खौफ में है। फ़ोन करने वाले व्यक्ति ने धमकी देने के साथ साथ पूरे समाज को अपशब्द कहे है और आरोपी के खिलाफ सख्त कार्यवाई की जानी चाहिए।

पुलिस अधीक्षक ने दिए जांच के आदेश

दलित संगठनों ने वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुए पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर कार्यवाही की मांग की है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने जांच के आदेश दे दिए है और त्वरित कार्यवाही का आश्वासन भी दिया है।

डिस्क्लेमर:- (राजस्थान चौक वायरल वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है)

No comments

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version