सीपी जोशी से नहीं कोई अदावत, छोटी-मोटी बातें थी अब सब ठीक- चंद्रभान सिंह आक्या

चौक टीम, जयपुर। चित्तौड़गढ़ में भाजपा ने सिटिंग विधायक चंद्रभान सिंह आक्या का टिकट काट दिया था। जिसके बाद आक्या निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतरे और जीते। आक्या पर सभी नेताओं की नज़र रही क्योंकि बतौर निर्दलीय प्रत्याशी भी उन्होंने पीएम मोदी के नाम पर ही अपना चुनाव प्रचार किया। राजस्थान चौक ने चंद्रभान सिंह आक्या (Chandrabhan Singh Aakya Exclusive) से उनके चुनावी मैनेजमेंट, पीएम मोदी के नाम का उपयोग और अन्य मुद्दों को लेकर बात की जिसमें उन्होंने कई चौंकाने वाले खुलासे किए।

प्रश्न 1. कुकर निशान लेकिन प्रेशर सामने वालों पर कैसे बना दिया?

जवाब – चुनाव मैंने नहीं जनता ने लड़ा है और मैं भाजपा के साथ था, हूं और रहूंगा। भाजपा की सरकार बनी है और मोदी जी के आदर्शों पर हमने चलना सीखा है जिसमें मोदी जी ने वास्तव में इस देश के लिए बहुत काम किया है। भाजपा की इस बार की सरकार पांच साल की नहीं बनी है बल्कि 25 साल की बनी है। कांग्रेस के भ्रष्टाचार के चलते लोग ऊब गए थे और इसलिए जनता ने भाजपा को चुना है जो की राजस्थान में विकास करेंगी।

प्रश्न 2. चुनावी मैनेजमेंट की तारीफ बड़ी हो रही है, किसका रोल इसमें महत्वपूर्ण रहा है?

जवाब – ये मैनेजमेंट मेरे कार्यकर्ताओं का है और जो पदाधिकारी मेरे साथ लगे हुए थे उनका है। जो लोग मेरे साथ चुनाव प्रचार में लगे थे उन्हें चुनाव का बहुत अनुभव था, जिसके चलते हमने बूथ मैनेजमेंट का चुनाव लड़ा है।

प्रश्न 3. भाजपा में शामिल हो कर आप मंत्री बनेंगे सरकार में?

जवाब – मैं मंत्री बनने की आशा नहीं करता, लेकिन जो विकास अपने क्षेत्र के लिए कर सकता हूं उस पर ध्यान दूंगा। वसुंधरा जी की सरकार में भी मैंने अच्छा काम किया था इसलिए मुझे मंत्री पद की लालसा नहीं है बल्कि जनता के काम की लालसा है।

प्रश्न 4. विधायकी का टिकट कटने के बाद हो सकता था की पार्टी आपको लोकसभा में उतार देती?

जवाब – पार्टी ने टिकट नहीं दिया तो मुझे कोई दिक्कत नहीं थी और मैंने स्वीकार भी कर लिया था। लेकिन चित्तौड़गढ़ के लोग नहीं माने और उन्होंने मुझे फॉर्म भरने कहा और उन्होंने ही चुनाव लड़ा। मेरे घर के बाहर 1000 महिलाओं का जमावड़ा था जो ये कह रही थी की आप चुनाव लड़ो।

प्रश्न 5. आप ओम माथुर से मिले हैं तो क्या वो मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं?

जवाब – मैं जेपी नड्डा, ओम माथुर और बीएल संतोष जी से भी मिला। लेकिन यहां जब विधायक दल की बैठक होगी तो उसमें तय होगा के कौन मुख्यमंत्री बनेगा और उस फैसले पर सभी विधायक समर्थन देंगे। भाजपा अनुशासित पार्टी है, इसलिए आलाकमान के साथ हम है।

प्रश्न 6. मोदी जी की तस्वीर के जरिए आप चुनाव लड़ रहे थे ?

जवाब – पीएम मोदी विश्व के आदर्श है और जो काम उन्होंने किए हैं वो कोई नहीं कर सकता। मोदी जी को भगवान का आश्रीवाद मिला है इसलिए उनके निर्देशन और नाम पर मैंने चुनाव लड़ा।

प्रश्न 7. सीपी जोशी से क्या अदावत है?

जवाब – सीपी जोशी जी से कोई नाराज़गी नहीं है। छोटी मोटी बातें होती रहती है लेकिन अब सब सही हो गया है। मेरे उनसे अभी बात नहीं हुई है लेकिन जल्द मुलाकात भी होगी।

प्रश्न 8. आप किसे मुख्यमंत्री की कुर्सी पर देखना चाहते हैं?

जवाब – भाजपा में चाय बेचने वाला मुख्यमंत्री बन सकता है। इसलिए जो राष्ट्रीय नेतृत्व तय करेगा उस हिसाब से ही काम होगा।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img