पेपर लीक मामलों की सीबीआई से जांच करवाने की मांग को लेकर बेनीवाल के नेतृत्व में RLP ने सिविल लाइंस फाटक तक किया कूच

जयपुर। राजधानी जयपुर में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सुप्रीमो व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल की अगुवाई में पेपर लीक मामलो की सीबीआई से जांच करवाने की मांग को लेकर बड़ा प्रदर्शन किया गया।आरएलपी द्वारा शहीद स्मारक पर विशाल जन सभा का आयोजन किया गया। जिसमें सांसद हनुमान बेनीवाल ने सरकार पर कड़े प्रहार किए।बेनीवाल ने कहा 35 लाख से अधिक युवाओं के सपने हर भर्ती में पेपर लीक करवाने वाले माफिया तोड़ देते है। उन्होंने कहा यदि ऐसे मामलो की सीबीआई जांच होती है तो सीएमओ में लंबे समय तक कार्यरत रहे भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी के अमित ढाका जेल में होंगे और सीएम के ओएसडी देवाराम को भी तकलीफे उठानी पड़ेगी।

बेनीवाल ने केंद्र की अग्निपथ योजना को भी युवा विरोधी बताते हुए कहा की सेना में संविदा भर्ती जैसा निर्णय किसी भी दृष्टि से सही नही है और इसको लेकर भी जल्द बड़ा आंदोलन दिल्ली की तरफ कूच करने को लेकर किया जायेगा। बेनीवाल ने कहा की भाजपा यदि पेपर लीक मामले में कार्यवाही करवाने की वास्तव में मंशा रखती है तो केंद्र में उनकी सरकार है और ईडी सहित केंद्रीय एजेंसियों से इस मामले में कार्यवाही करवानी चाहिए अन्यथा यह फिर से साबित हो जायेगा की भाजपा और कांग्रेस का इस मामले भी आपसी गठजोड़ है।


यह आरोप भी लगाए बेनीवाल ने

लोकायुक्त की रिपोर्टों के हवाले से कहा की वर्तमान और पूर्व मुख्यमंत्री दोनो के विरुद्ध लोकायुक्त ने कई मामलो में एफआईआर दर्ज करवाने की सिफारिश कर रखी है मगर वसुंधरा और गहलोत दोनो ने एक दूसरे के कारनामो पर पर्दा डाला। सांसद ने कहा पेपर लीक होने के तार सीएमओ तक जुड़े हुए है। सभा को आर एल पी के विधायको सहित पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया।

हजारों लोगो का सिविल लाइंस फाटक तक कूच


सांसद बेनीवाल के सीएम हाउस की तरफ कूच का एलान करते ही उनके नेतृत्व में हजारों युवाओं ने सिविल लाइंस की तरफ कूच किया और सिविल लाइंस फाटक पर लगे बैरिकेटिग पर आर एल पी कार्यकर्ताओ और पुलिस में गहरी झड़प भी हुई।

सांसद ने कहा सीएम सत्ता के मद में धृतराष्ट्र बने हुए है और वो अपने खास लोगो की बचाने के लिए सीबीआई जांच से कतरा रहे है।


विधायको ने दिया ज्ञापन


आर एल पी के प्रदेश अध्यक्ष व भोपालगढ़ विधायक विधायक पुखराज गर्ग, खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल व मेड़ता विधायक इंदिरा देवी बावरी व पार्टी पदाधिकारियों ने अतिरिक्त पुलिस आयुक्त को राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर पेपर लीक मामलों की सीबीआई से जांच करवाने की मांग रखी।


यह लिखा ज्ञापन में

आर एल पी द्वारा राज्यपाल के नाम दिए गए ज्ञापन में लिखा गया की राजस्थान में विभिन्न भर्ती परीक्षाओं के पेपर लगातार आउट हो जाने से मेहनतकश युवाओं के सपनों के साथ खिलवाड़ हो रहा है।

24 दिसम्बर 2022 शनिवार को राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक प्रकरण सहित विगत दस वर्षो में पेपर लीक के कारण रद्द हुई भर्तियों का हवाला देते हुए सीबीआई जांच की मांग की गई। साथ ही ऐसी पेपर लीक से जुड़ी भर्तियों में भारी लेन देन का जिक्र भी किया गया जिसने ईडी से हस्तक्षेप करवाने की मांग भी रखी गई।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img