लोकसभा चुनाव में खुला भाजपा का खाता, वोटिंग से पहले जीती एक लोकसभा सीट; सूरत से मुकेश दलाल निर्विरोध निर्वाचित

चौक टीम, जयपुर। लोकसभा चुनाव के बीच भारतीय जनता पार्टी के लिए गुजरात से अच्छी खबर आई है। सूरत लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार का नामांकन रद्द होने के बाद बाकी बचे 8 उम्मीदवारों ने भी अपने नाम वापस ले लिए हैं, जिसके बाद बीजेपी की निर्विरोध जीत तय हो गई है। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव में बीजेपी का खाता भी खुल गया है।

दरअसल, लोकसभा चुनाव-2024 में भाजपा को पहली सीट सूरत से मिली है। सूरत लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार मुकेश दलाल ने निर्विरोध जीत कर इतिहास रच दिया है। नाम वापस लेने के अंतिम दिन कुल 9 मान्य नामांकन में से 8 ने अपनी उम्मीदवारी वापस ले ली है। इससे पहले रविवार को कांग्रेस उम्मीदवार निलेश कुंभाणी और सुरेश पडसाला के नामांकन रद्द कर दिए गए थे।

उल्लेखनीय है कि देश में 1951 से लेकर वर्ष 2019 में तक हुए 17 बार लोकसभा चुनाव में पहली बार कोई उम्मीदवार निर्विरोध विजयी घोषित किया गया है। इस तरह भाजपा को वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव में पहली सीट सूरत से मिली है। सूरत लोकसभा सीट के लिए भाजपा के मुकेश दलाल समेत 9 लोगों के नामांकन मान्य घोषित किए गए थे।

8 उम्मीदवारों ने अपने नाम वापस ले लिए

बता दें नाम वापस लेने के अंतिम दिन सोमवार को मुकेश दलाल को छोड़कर बाकी के सभी 8 उम्मीदवारों ने अपने नाम वापस ले लिए। शाम तक चुनाव अधिकारी की ओर से इसकी आधिकारिक घोषणा की जाएगी। सोमवार सुबह सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्टी के अब्दुल हमीद खान, ग्लोबल रिपब्लिकन पार्टी के जेयेश मेवाडा, लोग पार्टी के सोहेल शेख, निर्दलीय अजीत उमट, निर्दलीय किशोर डायाणी, निर्दलीय रमेश भाई बारैया और निर्दलीय भरतभाई प्रजापति ने अपने नाम वापस ले लिए।

हालांकि बहुजन समाज पार्टी के प्यारेलाल भारती ने सबसे अंत में अपना नाम वापस लिया। इससे पूर्व उनकी पार्टी की ओर से पुलिस आयुक्त को पत्र लिख कर सुरक्षा की मांग की गई थी। उनका आरोप था कि उनकी पार्टी के उम्मीदवार को अनजान नंबरों से फोन कर धमकी दी जा रही है। हालांकि बाद में उन्होंने भी अपना नाम वापस ले लिया।

कौन हैं मुकेश दलाल?

मुकेश दलाल गुजरात के सूरत BJP के महासचिव हैं। निर्विरोध जीत दर्ज करने वाले मुकेश दलाल मोढ वणिक समुदाय से आते हैं और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष CR पाटिल के करीबी माने जाते हैं। वे हाल ही में SDCA कमेटी के मेंबर भी हैं। इसके अलावा मुकेश सूरत नगर निगम (SMC) के पूर्व स्थायी समिति अध्यक्ष भी रहे हैं। मुकेश दलाल ने लंबे समय तक प्रदेश स्तर पर काम कर चुके हैं। इसके अलावा दलाल सूरत में अच्छी पकड़ रखते हैं वे वहां से 3 बार पार्षद और 5 बार स्थाय समिति के अध्यक्ष रहे हैं।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img