रोज़गार के मुद्दे पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बड़ा बयान

0
419

जयपुर। राजस्थान में सरकारी नौकरियों को लेकर अलग अलग ज़िलों में भी युवा सड़कों पर है लेकिन इन सबके बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज बड़ा बयान दिया है। उदयपुर में आयोजित जॉब फेयर में युवाओं को संबोधित करते हुए CM ने कहा कि राजस्थान सरकार युवाओं को रोज़गार देने की पूरी कोशिश कर रही है। लेकिन सभी को सरकारी नौकरी देना संभव नहीं है। कोई भी सरकार ऐसा नहीं कर सकती राजस्थान सरकार की कोशिश है कि वो सरकार के स्तर पर पर ग़ैर सरकारी स्तर पर युवाओं को रोज़गार दे युवाओं के लिए अलग अलग स्कीम सरकार लेकर आयी है।

युवाओं को सक्षम बनाने की दिशा में काम

अलग अलग स्टार्टअप के ज़रिए सरकार युवाओं को सक्षम बनाने की दिशा में काम कर रही है ताकि सरकारी नौकरी नहीं होने की स्थिति में राजस्थान का युवा दूसरे युवाओं को नौकरी देने की स्थिति में हो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा हमारा अगला बजट युवाओं पर फ़ोकस रहने वाला है 4 साल में सरकार ने रोज़गार देने की जो हर संभव कोशिश की है उसे आने वाला बजट आगे ले जाने की कोशिश करेगा लेकिन युवाओं को समझना चाहिए कि रोज़गार सीमित है।

प्रधानमंत्री के वादे का क्या हुआ

2014 में जब नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने थे तब उन्होंने जो जोश में हर साल दो करोड़ नौकरियां देने का वादा किया था लेकिन उस वादे का क्या हुआ पूरा देश जानता है। केंद्र सरकार को चाहिए कि युवाओं को सक्षम बनाने के लिए केंद्रीय बैंक युवाओं की मदद करें अलग अलग योजनाओं में लोन के ज़रिए युवाओं को रोज़गार हासिल करने में मदद की जाए केंद्र सरकार केवल धन कुबेरों की मदद करती है वो बैंकों के लोन लेकर फ़रार हो जाते हैं लेकिन जो युवा समय पर लोन नहीं चुकाया तो उन्हें प्रताड़ित किया जाता है केंद्र सरकार को अपनी पॉलिसी बदलनी चाहिए राजस्थान सरकार इन जॉब फेयर के ज़रिए नये रोज़गार देने की क़वायद कर रही है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here