क्यों नहीं हैं एक भी मुस्लिम प्रत्याशी ?

 

राजस्थान में आकड़ों के अनुसार मुस्लिम आबादी 11 फीसदी  है लेकिन प्रदेश की 82 विधानसभा सीटों पर एक भी मुस्लिम उम्मीदवार चुनाव मैदान में नहीं है। बीजेपी यूनस खान पर दांव लगाकर हिंदुत्व का कार्ड खेल दिया। वहीं कांग्रेस के मुस्लिम प्रत्याशी पिछली बार जितने थे उतने ही इस बार मैदान में उतारे हैं। प्रदेश में 200 सीटों पर चुनाव होने है, जिसमें 141 अनारक्षित विधानसभा सीटों पर सिर्फ 59 पर ही इस बार मुस्लिम प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। राजस्थान विधानसभा चुनाव के 82 सीटों पर एक भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं है।

31 सीटों पर एक ही जाति के उम्मीदवार

भारतीय राजनीति में जाति का दखल हमेशा से रहा है। राजस्थान विधानसभा चुनावों में दोनों बीजेपी और कांग्रेस ने जातिगत समीकरण का विशेष ध्यान रखा है। दोनों पार्टियों ने इस बार 200 में से 31 विधानसभा सीटों पर एक ही जाति के उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे हैं।

 

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

--advt--spot_img